गोस्वामी तुलसीदास जी की रचनाएँ (Creations of Goswami Tulsidas)

Creations of Tulsidas

गोस्वामी तुलसीदास सगुण भक्ति धारा, रामाश्रयी शाखा के कवि थे उनका साहित्यिक कार्य बड़ा ही अनमोल है |

गोस्वामी तुलसीदास (1511 – 1623) हिंदी साहित्य के महान कवि थे। इनका जन्म सोरों शूकरक्षेत्र, वर्तमान में कासगंज (एटा) उत्तर प्रदेश में हुआ था। कुछ विद्वान् आपका जन्म राजापुर जिला बाँदा (वर्तमान में चित्रकूट) में हुआ मानते हैं। इन्हें आदि काव्य रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि का अवतार भी माना जाता है। श्रीरामचरितमानस का कथानक रामायण से लिया गया है। रामचरितमानस लोक ग्रन्थ है और इसे उत्तर भारत में बड़े भक्तिभाव से पढ़ा जाता है। इसके बाद विनय पत्रिका उनका एक अन्य महत्वपूर्ण काव्य है। महाकाव्य श्रीरामचरितमानस को विश्व के १०० सर्वश्रेष्ठ लोकप्रिय काव्यों में ४६वाँ स्थान दिया गया। आइए जाने तुलसीदास जी की रचनाओं कों याद रखने की युक्ति-

युक्ति :
दो बैरागी कवि राजश्री पावै
स्पष्टीकरण :
क्रमयुक्तिरचना
1दोदोहावली
2बैबरवै रामायण
3रारामलला नहछू
4गीगीतावली
5कवितावली और कृष्ण गीतावली
6विविनयपत्रिका
7रारामाज्ञा प्रश्न
8जानकी मंगल
9श्रीश्री राम चरित मानस
10पापार्वती मंगल
11वैवैराग्य संदीपनी

 

महत्वपूर्ण-

रामचरितमानस तुलसीदास जी का सर्वाधिक लोकप्रिय ग्रन्थ रहा है। उन्होंने अपनी रचनाओं के सम्बन्ध में कहीं कोई उल्लेख नहीं किया है, इसलिए प्रामाणिक रचनाओं के सम्बन्ध में अन्त:साक्ष्य का अभाव दिखायी देता है। नागरी प्रचारिणी सभा काशी द्वारा प्रकाशित ग्रन्थ इस प्रकार हैं :

    • रामचरितमानस
    • रामललानहछू
    • वैराग्य-संदीपनी
    • बरवै रामायण
    • पार्वती-मंगल
    • जानकी-मंगल
    • रामाज्ञाप्रश्न
    • दोहावली
    • कवितावली
    • गीतावली
    • श्रीकृष्ण-गीतावली
    • विनय-पत्रिका
    • सतसई
    • छंदावली रामायण
    • कुंडलिया रामायण
    • राम शलाका
    • संकट मोचन
    • करखा रामायण
    • रोला रामायण
    • झूलना
    • छप्पय रामायण
    • कवित्त रामायण
    • कलिधर्माधर्म निरूपण
    • हनुमान चालीसा

 

इस पृष्ठ को अपने मित्रों से साझा करे

4 thoughts on “गोस्वामी तुलसीदास जी की रचनाएँ (Creations of Goswami Tulsidas)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *